कृषि एवं उद्यान मेले का जिलाधिकारी ने किया शुभरम्भ !

मुजफ्फरनगर 22 दिसम्बर 2016..प्रधानमंत्री कृषि सिचाई योजना एवं एकीकृत बागवानी विकास मिशन के अन्तर्गत जनपद स्तरीय तीन दिवसीय कृषक मेला/संगोष्ठी, प्रदर्शन बागवानी, पशु शुभारम्भ नुमाईश ग्राउड में जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिह ने अपने साथ संयुक्त रूप से एक वृद्व किसान से कराया। जिलाधिकारी ने कहा कि यह प्रदर्शनी किसानों के सम्मान में पूर्व प्रधानमंत्रीचौ0 चरण सिह की जयन्ती के उपलक्ष्य में लगायी जा रही है। उन्होने कहा कि जनपद के प्रगतिशील किसानो को मेले मे सम्मानित किया जायेगा तथा अच्छे बीजो के बारे में जानकारी उपलब्ध करायी जा रही है। जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद मुजफ्फरनगर कृषि प्रधान है तथा यहा पर अच्छी फसलें उगायी जाती है। जिलाधिकारी ने कहा कि मेेले में कृषि,उद्यान,पशुपालन,गन्ना एवं मत्स्य विभाग द्वारा विभागीय योजनाओं से सम्बन्धित प्रदर्शनी के साथ-साथ सहकारी एवं निजी विक्रेताओं द्वारा अपने-अपने उत्पाद को प्रदर्शित किया गया। उप कृषि निदेशक द्वाराकृषि विभाग की समस्त योजनाओ की विस्तृत जानकारी प्रदान की गयी। गोष्ठी में जिला उद्यान अधिकारी द्वारा एकीकृत बागवानी विकास मिशन योजना के साथ-साथ उद्यान विभाग द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं के सम्बन्ध में जानकारी प्रदान की गयी। जिलाधिकारी ने कहा कि मुख्य रूप से पोलीहाउस में पुष्प एवं सब्जियों की खेती पर जोर दिया जाये। जिला कृषि अधिकारी द्वारा किसानो को विभाग द्वारा संचालित योजनाओं की विस्तृत जानकारी प्रदान की गयी। कृषि विज्ञान केन्द्र बघरा के डा0 जे0के आर्य वैज्ञानिक उद्यान एवं सब्जियों की खेती साथ-साथ बागों के प्रबन्धन की तकनीकी जानकारी प्रदान की। डा0 श्रीपाल राणा वैज्ञानिक कृषि विज्ञान केन्द्र बघरा द्वारा औद्यानिक फसलों में जैविक खेती पर जोर दिया तथा गन्ने की वैज्ञानिक खेती के साथ-साथ गन्ने में लगने वाले कीट रोग के साथ-साथ गन्ना उत्पादन की तकनीकी जानकारी प्रदान की तथा कृृषकों की समस्याओं का निदान किया गया। उप सम्भागीय कृषि प्रसार अधिकारी बुढाना द्वारा गेहू की वैज्ञानिक खेती की जानकारी प्रदान की गयी। उप परियोजना निदेशक (आत्मा) द्वारा कृषि तकनीकी प्रबन्ध अभिकरण (आत्मा) योजना के कार्यक्रमों की जानकारी प्रदान की गयी। जिलाधिकारी ने कृषकों से वैज्ञानिकों द्वारा तकनीकी जानकारी का लाभ उठाने का अवाहन किया तथा प्रदर्शनी में उद्यान विभाग के द्वारा सब्जी, पुष्प, फल प्रदर्शनी के साथ-साथ गन्ना प्रदर्शनी, पशु प्रदर्शनी एवं दंगल आयोजन के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने प्रदर्शनी को दिनांक 24 दिसम्बर तक आयोजित कराने के निर्देश भी दिये। कृषक मेला/गोष्ठी में कृषकों के मनोरंजन हेतु श्री धर्मवीर प्रेमी द्वारा रागिनी का भी आयोजन किया गया जिसे समस्त कृषकों द्वारा पूर्ण मन से सुना गया।

0 Comments

Write a comment

Write a Comment

Your data will be safe! Your e-mail address will not be published. Also other data will not be shared with third person.